boltBREAKING NEWS
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

ग्रीन टी में यह पांच चीजें मिलाकर करें सेवन, मिलेंगे गज़ब फायदे

ग्रीन टी में यह पांच चीजें मिलाकर करें सेवन, मिलेंगे गज़ब फायदे

ग्रीन टी को हेल्थी ड्रिंक में से एक माना जाता है। इसमें एंटी-ऑक्सिडेंट भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं। ग्रीन टी में पॉलीफेनॉल्स पदार्थ प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जिसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं, जैसे कि सूजन को कम करना और कैंसर से लड़ने में मदद करना आदि।हालांकि, इस जादुई चाय के कई फायदे हैं, लेकिन बेहतर परिणाम के लिए कुछ दिशानिर्देश भी दिए गए हैं, जिन्हें ध्यान में रखना बहुत ज़रूरी है। हमेशा ध्यान रखें कि ग्रीन टी का उपभोग हर रोज़ दो से पांच कप के बीच ही होना चाहिए।

 ग्रीन टी का सेवन कैसे और कब करें, इसके बारे में आइये जानते हैं कुछ मत्वपूर्ण बातें-

ग्रीन टी सुबह पिएं

यह बात सभी जानते हैं कि हमारी देसी चाय के अपने बहुत सारे फायदे हैं। हालांकि, यदि आप हर सुबह अपने चाय के साथ बिस्कुट लेना पसंद करते हैं तो आप ग्रीन टी ले सकते हैं। ग्रीन टी आपके दिन की स्वस्थ शुरुआत के लिए एक बेहतर ड्रिंक हो सकती है।

 

भोजन के ठीक बाद ग्रीन टी का सेवन नहीं करें

जब हम किसी खाद्य पदार्थों का सेवन करते हैं तो उसमें मौजूद प्रोटीन को शरीर द्वारा पचाने में कुछ समय लगता है, इसलिए भोजन के तुरंत बाद ग्रीन टी पीना इस पाचन प्रक्रिया को नुकसान पहुंचा सकती है। और इसलिए कभी भी खाने के तुरंत बाद ग्रीन टी का सेवन नहीं करना चाहिए।

ग्रीन टी ज्यादा गर्म नहीं लें

ज्यादा गर्म ग्रीन टी पीना न केवल इसे बेस्वाद बना देता है बल्कि आपके पेट और गले को नुकसान भी पहुंचा सकता है। इसके बेहतर परिणाम के लिए अपनी ग्रीन टी को गुनगुना ही लें।

खाली पेट ग्रीन टी पीना

चूंकि ग्रीन टी शरीर के पूरे सिस्टम को डिटॉक्स करती है, इसलिए कुछ लोग सोचते हैं कि सुबह ग्रीन टी पीना सुरक्षित होता है। यह पूरी तरह सही नहीं है। खाली पेट होने के बाद आपको कुछ हल्का पदार्थ लेना चाहिए, जो आपके मेटाबॉलिज़म को ठीक रखें। ग्रीन टी में स्ट्रांग एंटी-ऑक्सिडेंट और पॉलीफेनोल होते हैं जो पेट के एसिड के उत्पादन को बढ़ा सकते हैं और पाचन को डिस्टर्ब कर सकते हैं। 

 

गर्म ग्रीन टी में शहद न डालें

हम में से ज्यादातर लोग ग्रीन टी में शहद मिलाना पसंद करते हैं, क्योंकि यह चीनी का एक स्वस्थ विकल्प होता है और इसका स्वाद भी अच्छा होता है। लेकिन यदि आप शहद को उबलते हुए कप में डालते हैं, तो संभावना है कि शहद के पोषक तत्व नष्ट हो जाएंगे। इसलिए, अपनी ग्रीन टी के तापमान को थोड़ा कम होने दें, फिर दालचीनी, शहद, आदि जो भी आप मिलाना चाहें, मिला सकते हैं।

ग्रीन टी के साथ दवाइयाँ न लें

कुछ लोग अपनी सुबह की ग्रीन टी के कप के साथ दवाई की गोलियों लेते हैं। लेकिन यह बेहद हानिकारक हो सकता है, क्योंकि आपकी गोली की रासायनिक संरचना हरी चाय के साथ मिलकर एसिडिटी का कारण बन सकती है। इसलिए, यह सलाह दी जाती है कि आप अपनी गोलियों को किसी भी पदार्थ के बजाय नियमित पानी के साथ ही लें।

 ग्रीन टी का ज्यादा सेवन ना करें

सिर्फ इसलिए कि ग्रीन टी स्वास्थ्य के लिए अच्छी होती है इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि आप एक दिन में बहुत सारे कप ले सकते हैं। चाय या कॉफी की तरह ग्रीन टी में भी कैफीन होता है। इसके ज्यादा सेवन करने से सिरदर्द, सुस्ती, एंग्ज़ायटी, चिड़चिड़ापन के साथ-साथ अनेक हानिकारक दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं। मॉडरेशन में इसका उपयोग करना अच्छा होता है। ग्रीन टी का बहुत अधिक सेवन करने से शरीर में आयरन का अवशोषण कम हो जाता है। इसलिए आपको एक दिन में 2-3 कप से ज्यादा इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम

cu