boltBREAKING NEWS
  •  
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

जंगली जानवरों के साथ भाई की तरह रहता है ये मोगली, दाल-चावल नहीं, खाने में पसंद करता है हरी-हरी घास1

जंगली जानवरों के साथ भाई की तरह रहता है ये मोगली, दाल-चावल नहीं, खाने में पसंद करता है हरी-हरी घास1

 आपने मोगली के बारे में तो जरूर सुना होगा। वो बच्चा जो बचपन से जानवरों के साथ रह रहा था। मोगली जानवरों के साथ खेलता था, वो उनकी तरह हरकतें करता था। यहां तक कि वो बातें भी उन्हीं की तरह करता था। 2020 में एक और मोगली सामने आया है। 21 साल के एली की तस्वीरें इन दिनों वायरल हो रही है। साउथ अफ्रीका के रवांडा में रहने वाले एली को लोगों के बीच रहने से ज्यादा अच्छा जंगल में समय बिताना लगता है। वो पेड़ों पर रहता है और खाने में दाल-चावल की जगह केले और घास खाना पसंद करता है। एली की मां उसे  स्पेशल चाइल्ड बुलाती है। साथ ही एली की मां का कहना है कि भले ही उसका बेटा औरों से अलग है लेकिन यही चीज उसे स्पेशल बनाती है। 

 

<p>अफ्रीका के रवांडा के गांव में रहने वाला 21 साल का एली बचपन से ही आम बच्चों जैसा नहीं था। वो  जंगल में भाग  जाता और वहां जानवरों के साथ रहता था। <br />
 </p>

 

अफ्रीका के रवांडा के गांव में रहने वाला 21 साल का एली बचपन से ही आम बच्चों जैसा नहीं था। वो  जंगल में भाग  जाता और वहां जानवरों के साथ रहता था। 
 

<p>एली को बोलना नहीं आता। साथ ही वो घर का खाना भी नहीं खाता। उसे अपनी मां के हाथों का खाना पसंद नहीं है। वो अपने घर वालों से बात नहीं कर पाता। </p>

 

एली को बोलना नहीं आता। साथ ही वो घर का खाना भी नहीं खाता। उसे अपनी मां के हाथों का खाना पसंद नहीं है। वो अपने घर वालों से बात नहीं कर पाता। 

<p>अपनी मां के हाथ का खाना खाने की जगह उसे जंगल से फल और घास-फूस खाना पसंद है। एली की मां उसे भगवान का तोहफा मानती है।  </p>

 

अपनी मां के हाथ का खाना खाने की जगह उसे जंगल से फल और घास-फूस खाना पसंद है। एली की मां उसे भगवान का तोहफा मानती है।  

<p>दरअसल,एली से पहले उसकी मां के पांच बच्चों की मौत जन्म के तुरंत बाद ही हो गई थी। काफी इंतजार के बाद एली का जन्म हुआ और वो भी स्पेशल चाइल्ड निकला।  </p>

 

दरअसल,एली से पहले उसकी मां के पांच बच्चों की मौत जन्म के तुरंत बाद ही हो गई थी। काफी इंतजार के बाद एली का जन्म हुआ और वो भी स्पेशल चाइल्ड निकला।  

<p>बचपन से ही एली को चीजें समझने में दिक्कत होती थी। इस कारण वो स्कूल नहीं जा पाया। साथ ही वो गांव वालों से भी दूर रहता था। </p>

 

बचपन से ही एली को चीजें समझने में दिक्कत होती थी। इस कारण वो स्कूल नहीं जा पाया। साथ ही वो गांव वालों से भी दूर रहता था। 

<p>गांव वाले एली को बन्दर बुलाते हैं। उसके उम्र के लड़के और बच्चे उसे ताने मारते हैं। लेकिन एली की मां उसे बेहद लाड करती है। <br />
 </p>

 

गांव वाले एली को बन्दर बुलाते हैं। उसके उम्र के लड़के और बच्चे उसे ताने मारते हैं। लेकिन एली की मां उसे बेहद लाड करती है। 
 

 

<p>वो कहती है कि उसका बेटा काफी मासूम है। उसे दुनियादारी नहीं समझ आती। वो बेहद भोला है। एली हर कभी जंगल भाग जाता है।  </p>

 

वो कहती है कि उसका बेटा काफी मासूम है। उसे दुनियादारी नहीं समझ आती। वो बेहद भोला है। एली हर कभी जंगल भाग जाता है।  

<p>ऐसे में एली की मां हर समय उसपर नजर रखती है। जंगल में वो खो ना जाए इसलिए वो उसके पीछे-पीछे जाती है ताकि उसे पकड़कर वापस लाया जाए। <br />
 </p>

 

ऐसे में एली की मां हर समय उसपर नजर रखती है। जंगल में वो खो ना जाए इसलिए वो उसके पीछे-पीछे जाती है ताकि उसे पकड़कर वापस लाया जाए। 
गांववालों का कहना है कि एली उसेन बोल्ट से भी तेज तोड़ता है। पल भर में वो जंगल की तरफ भाग जाता है। ऐसे में उसपर नजर रखना उसकी मां के लिए काफी मुश्किल हो रहा है।