boltBREAKING NEWS
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

प्रेमी ही हत्यारा निकला

प्रेमी ही हत्यारा निकला
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • The Lover Turned Out To Be The Killer Of The Woman, The Body Was Burnt In A Septic Tank, Was Trying To Find A Gimmick With The Police For 13 Days

प्रेमी ही निकला हत्यारा:महिला की हत्या कर शव जलाकर सेप्टिक टैंक में फेंका, 13 दिन से पुलिस के साथ ढूंढने की कर रहा था नौटंकी

 

मृतक नीलम शाक्य के साथ उसका प्रेमी रवि पारधी,  सिर्फ किसी से संबंध होने के शक में उसकी हत्या कर दी - Dainik Bhaskar

ग्वालियर/ सेप्टिक टैंक में महिला का शव मिलने के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। प्रेमी ही हत्यारा निकला। उसने हत्या के बाद शव को जलाकर सेप्टिक टैंक में फेंक दिया था। हत्या के अगले दिन महिला की मां को लेकर ग्वालियर थाना पहुंचा और गुमशुदगी दर्ज कराई।

13 दिन से आरोपी रवि पारधी पुलिस के साथ मिलकर अपनी प्रेमिका को तलाशने का नाटक करता रहा। आरोपी को गिरफ्तार कर पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा किया है। पुलिस को सेप्टिक टैंक के पास रास्ते पर रवि के बाइक पर बोरा ले जाते के फुटेज भी मिले थे।

शनिवार दोपहर झांसी रोड में साइंस कॉलेज के पीछे सेप्टिक टैंक में एक कंकालनुमा शव मिला था। पहले तो पुलिस अफसर यह भी नहीं बता पा रहे थे मरने वाला लड़का है या लड़की। घटना स्थल से बिछिया, तौड़िया और सलवार शूट का कुछ कपड़ा मिला था। साथ ही पोस्टमार्टम के बाद साफ हुआ कि शव किसी 30 से 32 वर्षीय महिला का है। इसके बाद पुलिस ने छानबीन शुरू की। बीते 15 दिन में 60 महिलाएं गुम निकलीं। इसमें से 30 वर्ष के आसपास 12 महिलाएं थीं।

इस तरह खुला पूरा मामला
लापता महिलाओं के घर तलाशते हुए झांसी रोड थाना पुलिस जहांगीर कटरा निवासी यशोदा शाक्य के घर पहुंची। यहां पता लगा कि 8 फरवरी को यशोदा की 29 वर्षीय बेटी नीलम शाक्य पुत्री नीरज शाक्य बाजार की कहकर निकली थी तभी से लापता है। जब पुलिस ने स्पॉट से मिले गहने और कपड़े दिखाए तो उनसे यशोदा ने मृतक महिला की शिनाख्त अपनी बेटी नीलम शाक्य के रूप में की। अब पुलिस के पास शव की पहचान थी।

दो साल पहले पति से चल रहा था विवाद
यहीं पता लगा कि महिला की शादी 5 साल पहले हुई थी। दो साल पहले नीलम का पति से विवाद के चलते तलाक हो गया था। इसके बाद वह ललितपुर कॉलोनी निवासी रवि पारधी के संपर्क में थी। रवि पारधी अचलेश्वर मंदिर के पास सब्जी का ठेला लगाता है। दोनों के बीच प्रेम संबंध हो गए थे। इसके बाद पुलिस ने रवि की मोबाइल लोकेशन देखी तो वह 8 और 9 फरवरी को घटना स्थल के आसपास आई। उसे थाना लाकर पूछताछ की तो उसने पूरी वारदात कुबूल कर ली।

शक में कर दी हत्या
पकड़े गए रवि ने पुलिस के सामने खुलासा किया है कि उसे संदेह था कि नीलम का उसके अलावा भी किसी और से चक्कर चल रहा है। कई बार पूछा था तो वह झगड़ा करती थी। उस दिन भी वह उसके घर पहुंची तो झगड़ा हुआ। इसके बाद रवि ने गला दबाकर नीलम की हत्या कर दी। इसके बाद उसे बोरे में बंद कर बाइक पर रखकर साइंस कॉलेज के सेप्टिक टैंक पर पहुंचा और पेट्रोल डालकर जला दिया। अगले दिन फिर स्पॉट पर पहुंचा और जले हुए शव को अंदर टैंक में फेंककर छिपा आया।

ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम

cu