boltBREAKING NEWS
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ

गुड़ के हलवे और रस की खीर के बिना अधूरा है लोहड़ी का सेलिबेशन

गुड़ के हलवे और रस की खीर के बिना अधूरा है लोहड़ी का सेलिबेशन

लोहड़ी के अवसर पर वैसे तो घरों में कई तरह के पकवान बनाए जाते हैं जिसमें सरसों का साग-मक्के की रोटी, पिंडी छोले, गुड़ की रोटी, टिक्की जैसी चीज़ें शामिल हैं लेकिन मीठे व्यंंजनों में खीर और हलवा बहुत खास होता है वो भी आटे-गुड़ का हलवा और गन्ने की खीर। ये दोनों ऐसे पकवान हैं जिनके बिना एक तरह से ये त्योहार अधूरा है। तो आइए जानते हैं इसे बनाने का तरीका।

आटे-गुड़ का हलवा

सामग्री

1/2 कप घी, 3/4 कप गेहूं का आटा, डेढ़ कप पानी, 3/4 कप गुड़ (कद्दूकस किया हुआ), चुटकीभर इलायची पाउडर, थोड़े-से बादाम कटे हुए

विधि

- पैन में पानी गरम कर उसमें गुड़ डालें।

- गुड़ जब पूरी तरह से पिघल जाए तो उसे आंच से उतार लें।

- पैन में घी गरम करके आटा डालें।

- धीमी आंच पर सुनहरा होने तक भूनें।

- गुड़वाला पानी डालकर अच्छी तरह मिक्स करें, जिससे गांठें न बनने पाएं।

- पानी सूखने तक पकाएं।

- इलायची पाउडर और बचा हुआ घी डालकर अच्छी तरह मिक्स करें।

- आंच से उतारकर बादाम की कतरनों से सजाकर सर्व करें।

रस की खीर

सामग्री

गन्ने का ताजा रस, 2 कप चावल, दूध, काजू, बादाम, पिस्ता, इलाइची

विधि

सबसे पहले चावल को धोकर 1/2 घण्टे के लिए भिगोकर रख दें।

ताजा गन्ने के रस को मलमल के कपड़े की मदद से एक भारी-तली वाले बर्तन में छान लेते हैं। और मीडियम आंच पर गरम करने के लिए रख दें। जब गन्ने का रस गरम होना शुरु होगा तब उसके ऊपर मैल/गंदगी/लधोई की एक परत बन जाती है। जिसे चमचे की सहायता से हटा दें। जब गन्ने के रस में अच्छी तरह उबाल आ जाए तब आंच को धीमा कर इसमें भीगे हुए चावल डाल देते हैं। और फिर चमचे की सहायता से खीर को चलाते रहें। लगभग 20 से 25 मिनट के बाद चावल पक जाएंगे तब उसमें कटे हुए मेवे डाल दें। 10-15 मिनट तक खीर को और पकने दें। अब इसमें इलाइची पाउडर मिलाएंगे और गैस को बन्द कर खीर को ठंडा होने देते हैं। तैयार है गन्ने की खीर।

ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम

cu