boltBREAKING NEWS
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ

आशा सहयोगिनियों का क्षमतावर्धन प्रशिक्षण

आशा सहयोगिनियों का क्षमतावर्धन प्रशिक्षण

 अजमेर/ महिला एवं बाल विकास विभाग, हिन्दुस्तान जिंक और ग्रामीण एवं सामाजिक विकास संस्था,अजमेर की ओर से कुपोषण को मिटाने के लिए राज्य सरकार द्वारा निर्धारित अम्मा गाइड लाइन के तहत आशा सहयोगिनियो का प्रषिक्षण महिला एवं बाल विकास विभाग कार्यालय अजमेर में आयोजित किया जा रहा है। 

इस प्रषिक्षण के द्वारा समुदाय आधारित कुपोषण प्रबन्धन पर आषा सहयोगिनियों का क्षमतावर्धन प्रशिक्षण किया गया और आगनबाड़ी स्तर पर बच्चों का चयन किस प्रकार से किया जाये एवं चिन्हित करने के बाद बच्चों को स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर किये जाने वाले समुदाय आधारित कैम्प में स्क्रीनिंग करना व चिकित्सक की सलाह के आधार पर बच्चों का समुदाय आधारित प्रबन्धन के बारे में बताया जा रहा है। जिस्रसे बच्चों को कुपोषण से सुपोषण की ओर लाया जा सके। 

इस कार्यक्रम के अंतर्गत ४ सेक्टर्स की ११० आशा सहयोगिनियों को प्रशिक्षण प्रदान किया गया प्रशिक्षण में आशा सहयोगिनियों को कैसे बच्चे का वज़न लम्बाई बाह का माप लेना और किन.किन चीज़ों का ध्यान रखना है ये प्रैक्टिकल करके बताया गया । हमारे निर्धारित लक्ष्य के अनुसार आगे के प्रशिक्षण में हम ८० और आशा सहयोगिनियों को प्रशिक्षित करेंगे ।

उप निदेषक हेमन्त स्वरूप माथुर समेकित बाल विकास विभाग के द्वारा समुदाय आधारित कुपोषण प्रबन्धन पर आषाओं के प्रषिक्षण में आषा कार्यकर्ताओं से चर्चा की गई। चर्चा के दौरान हेमन्त स्वरूप ने कुपोषण की जंग जीतने में आषाओं की अहम भूमिका का भी विवरण किया। इसके अंतर्गत उन्होने बच्चों के पोषण की निगरानी करने और अम्मा गाइड लाइन का पालन करने के लिए आषा सहयोगिनियो को प्रोत्साहित किया। साथ ही आंगनबाड़ी केन्द्र पर चिन्हित बच्चों को कुपोषण निवारण केन्द्र ;डज्ब्द्ध पर दिखाने के बारे में बताया। 

हिन्दुस्तान जिंक से सीण्एसण्आर हेड रूचिका चाॅवला ने समुदाय आधारित कुपोषण प्रबन्धन पर आषाओं को उनके कार्य क्षेत्र के बच्चों को कुपोषण से सुपोषण की ओर लाने पर उत्साह वर्धन किया। इस प्रषिक्षण के दौरान ग्रामीण एवं सामाजिक विकास संस्था अजमेर सचिव अभय सिंह जी, परियोजना समन्वय बालूसिंह व बाल विकास परियोजना अजमेर शहर की टीम की सहभागिता रही है।

 

ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम

cu