boltBREAKING NEWS
  •  
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  •  

घाड़ थाने का भानोली मर्डर मिस्ट्री : अवैध सम्बंध के कारण हुई भानोली में महिला की हत्या

घाड़ थाने का भानोली मर्डर मिस्ट्री : अवैध सम्बंध के कारण हुई भानोली में महिला की हत्या

टोंक/दूनी(हरि शंकर माली)। घाड़ थाना अंतर्गत भानोली गांव में सरसों के खेत मे मिले नरकंकाल का मामला आखिर टोंक पुलिस ने खोल ही दिया। मर्डर मिस्ट्री में जो अहम कारण सामने आए वे अवैध सम्बंध के थे। नरकंकाल के पास मिली साड़ी के पल्लू में एक मोबाइल नम्बर पुलिस को कहानी के अंत तक ले जाने में कामयाब रहे। दरअसल ये हत्या गत 11 जनवरी 2021 को बताई गई। उसका नरकंकाल 10 फ़रवरी 2021 को भानोली निवासी गोकुल जाट के सरसों के खेत मे पड़ा मिला। उक्त साड़ी के पल्लू में लिखे मोबाईल नम्बर को तकनीकी सहायता से पुलिस ने ट्रेस किया तो पता लगा कि उस नम्बर पर आखरी बात महावीर मीना व हरिराम मीना से हुई।

यहीं से पुलिस को अहम सुराग मिला। जब दोनों संदिग्धों को बुलाकर पूछताछ हुई तो आखिर वे टूट गए और उन्होंने मामला कबूल कर लिया। दरअसल मृतका कमला पत्नी कालू मोग्या उम्र 35 वर्ष ढिकला गांव में झोपडी बनाकर रहते थे। उनके तीन बच्चे भी थे। तहकीकात में पता लगा कि बाद में कमला ओर उसका परिवार ढिकला गांव में महावीर मीना के खेत पर बटाई के रूप में काम करने लगे। इस दौरान महावीर ओर कमला के बीच अवैध सम्बंध बन गए और महावीर कमला को देवली व निवाई ले गया, जहाँ किराए का कमरा दिलवाकर वहीं छोड़ आया। इस दरम्यान वह बीच- बीच मे कमला से मिलने निवाई भी गया। इस दौरान कमला चूंकि अपने बच्चों को छोड़कर आई थी, लिहाजा वह महावीर पर दबाव डालने लगी कि वह उसे पत्नी का दर्जा दे और अपने छोड़े गए बच्चे लेकर आए। गांव में हुई बदनामी से महावीर परेशान रहने लगा। आखिर उसने ये बात अपने मामा के लड़के हरिराम को बताई तो उन्होंने तय किया कि उसकी हत्या कर ठिकाने लगा दिया जाए।

गत 10 जनवरी को महावीर और हरिराम दोनों बाइक से निवाई पहुँचे। जहां कमला के किराए के कमरे में ठहरे। फिर योजना बनाकर 12 जनवरी को दोनों आरोपी कमला को बाइक पर लेकर रवाना हुए और बाद में दोनों ने शराब पीकर केरली कुई के पास कमला की गला घोंटकर हत्या कर दी। बाद में उसका शव भानोली लाकर सरसों के खेत मे डाल कर चले गए। लगभग एक महीने तक शव खेत में पड़ा रहा। बाद में नरकंकाल 10 फ़रवरी को पुलिस को बरामद हुआ। पुलिस ने इस कहानी की पुष्टि भी करवाई ओर मृतका के परिजनों राजू मोग्या, उसकी पत्नी रतनी,पुत्री से नरकंकाल के पास मिले डोरे, सुहाग के सामानों की शिनाख्त करवाई। जिसे परिजनों ने पहचान लिया।

 घाड़ थाना प्रभारी ने बताया कि पुलिस द्वारा गठित टीम में रामेश्वर लाल उप निरीक्षक थाना अधिकारी घाड़, हरफूल हेड कांस्टेबल ,भेरूलाल हेड कांस्टेबल, भागचंद कॉन्स्टेबल , बजरंग कांस्टेबल, मेघराज कॉन्स्टेबल, रामराज कॉन्स्टेबल, कन्हैयालाल कॉन्स्टेबल वहीं महिला पुलिस में ज्योति कॉन्स्टेबल घाड़ थाना साइबर सेल से सुरेश चंद हेड कॉन्स्टेबल इस टीम में अपना सहयोग दिया है।